भारतीय नारी की स्थिति व नारी की स्थिति को सुधारने के लिए आवश्यक कदम

नारी का सम्मान निबंध, समाज में नारी का महत्व, समाज में नारी का स्थान पर निबंध, नारी शक्ति निबंध नमस्कार मित्रों आज का आर्टिकल प्रतिदिन के आर्टिकल से कुछ अलग तरह का है ये आर्टिकल जितना आसान लग रहा है उसे लिखना उतना ही अधिक कठीन है आज नारी समाज की जो स्थिति हम देख रहे है उसमे सुधार लाने व उनकी सुरक्षा बढाने के बारे मे हमारी team ने कुछ खास तरीके बताये हैं जो हम एक आर्टिकल के माध्यम से आपको बताने वाले है आज का हमारा ये आर्टिकल मात्र सभी जाति धर्म के लोगो मे जाग्रति लाने के माध्यम से लिखा जा रहा हैं।भारतीय नारी

मित्रों हमे आज की नारियों की स्थिति के बारे मे बताने की जरुरत नही है क्युँकि आज के समय मे नारियों की स्थिति कैसी है इससे आप और हम सभी अच्छी तरह से वाकीफ है व आज लगभग सभी लोगो की यही सोच है की नारियों की स्थिति मे अधिक से अधिक सुधार किये जाये पर एक जुटता ना होने के कारण उनकी ये इच्छा इतना बडा कार्य पूरा नही कर पाती व ये खुशी की बात है की आज कई अभियान छेडे जाते है जिससे की नारियों की स्थिति मे सुधार लाया जा सके इसे से सम्बंधित आज का हमारा ये आर्टिकल हैं।

नारी क्या है ?

नारी के बारे मे तो सब जानते है पर नारियों के महत्व के बारे मे कुछ लोगो को ही पता होता हैं आज भी हमारे समाज मे बहुत से गंदी सोच के लोग होते हैं जो नारियों को गंदी नजर से देखते है पर हमे ये बात भी नही भुलनी चाहिए की हमे जन्म देने वाली भी एक नारी है व हमारे हाथ पर राखी बांधने वाली भी एक नारी होती है जिसे हम बहन का दर्जा देते है  व उसकी सुरक्षा का वादा करते हैं मित्रों नारी एक्  होती  है पर उसके रुप बहुत तरीके के अलग अलग होते है मेरा अनुरोध तो यही है की अपने से बडी नारी को मा समान व छोटी उम्र की नारी या लडकी को बहन समान दर्जा दे

भारतीय नारी की स्थिति

1. मान – सम्मान

नारियों के लिए सबसे आवश्यक जो वस्तु है तो वह यही है की लोग उनका मान सम्मान करे पहले के समय मे नारी को इतना मान सम्मान नही दिया जाता था जबकी अब नारियों के मान सम्मान मे काफी तीव्रता आयी है पर कई जगह पर नारियों की स्थिति आज भी 1947 के जैसी है व कई बार हम नारियों के साथ छेडछाड व मारपीट के किस्से सुनते है ऐसा अत्याचार केवल घटिया सोच वाले व्यक्ति ही कर सकते है नारी एक पुरुष के लिए अपना सब कुछ छोड कर आती है पर कई पुरुष इसके बारे मे कभी नही सोचते पर आपको नारी की कुर्बानी पर थोडा सोचना चाहिए व उसकी जगह पर खुद को रख कर देखेगे तो आप अपने अन्दर नारी के लिए मान सम्मान काफी बढ जाता हैं।

2. समानता

आज के समय मे सबसे बडी समस्या यही है की लडकियो  को लडको की तुलना मे कम माना जाता है जबकि लडकिया कई क्षेत्रों मे लडको से भी काफी आगे है माना की पहले के लोग साक्षर नही थे इसलिए उस समय भेदभाव अधिक होता था पर आज साक्षरता का जमाना है आज के समय मे काफी लोगो ने लडकियो को लडको के समान दर्जा दिया है तो कई लोग पुरानी सोच पर ही अडे है लडकियो को लडको के समान मानने से ना तो समाज मे सर झुकाना पडता है व ना ही ये कोई पाप है फिर भी ना जाने क्यु लोग दोनो को समानता का दर्जा नही दे पाते हमारी राय तो यही है की लडके व लडकिया दोनो को समान दर्जा देना चाहिए व हर कदम मे उनका साथ देना चाहिए।

3. प्रेम भाव

लोगों मे कई बार देखने को मिलता है की वो अपने स्वार्थ के लिए किसी भी लडकी का भविष्य बर्बाद कर देते है जिसके कारण कई लडकिया आत्महत्या जैसा रास्ता अपना चुकी है ये लोगो की बहुत बुरी सोच होती है अपने किसी भी स्वार्थ के लिए किसी की जिन्दगी के साथ खेलना किसी भी तरीके से ठीक नही होता वही परिवार के लोगो मे भी लडकियो को कम प्रेम भाव दिया जाता है जबकि लडको को अधिक प्रेम भाव दिया जाता है इससे लडकिया मानसिक रुप से काफी कमजोर हो जाती है जो भविष्य मे उनके लिए काफी नुकसानदेह हो सकता है ऐसे मे हम सभी को प्रण लेना चाहिए की किसी भी नारी को सम्मान भरा प्रेम भाव से ना की स्वार्थ भरा प्रेम भाव दे

4. सहायता

आज हमारा देश इसके बारे मे काफी बढ चुका है आज हर कोई नागरिक नारियों की सहायता के लिए हमेशा तत्पर रहते है व उनकी सहायता के लिए कई संगठन भी बनाये जा चुके है पर कई परिवार ऐसे भी है जो लडकियो की तरक्की व सफलता देखने के बाद भी उसके सहयोग के लिए हाथ नही बढाते व उन्हें एक गुलाम की तरह रखते हैं व 90% marks लाने पर भी लडकियो को पढाई छुडवा दी जाती हैं जबकि 40% लाने वाले बेटे को परिवार के लोग अधिक से अधिक पढाने पर जोर देते है ये हीन मानसिकता होती है हर परिवार व परिवार के सदस्य को लडकियो को समान दर्जा देना चाहिए जिससे वो अपनी इच्छानुसार सफलता प्राप्त् कर सके

5. प्रेरित करना

आज के समय मे कई लोग लोग लडकियो को प्रेरित करने के लिए अलग अलग तरीके अपनाते है पर कई लोगो की सोच पूरानी होने के कारण वो होनहार लडकियो को भी उनकी मेहनत और लगन के अनुरुप प्रेरित नही करते अगर लडकियो को उनकी इच्छा अनुसार कार्य के लिए प्रेरित किया जाये तो लडकियो लडको से भी आगे निकल सकती हैं व परिवार के सहयोग से लडकियो को उनके लक्ष्य तक पहुचने मे भी काफी मदद मिलती हैं।

6. शिक्षा

आज के समय मे लगभग सभी लोग अपनी बेटियो को शिक्षा जरुर दिलवाते है पर कई परिवारो मे देखा जाता है की लडकियो को 8th, 10th 12th तक पढाई करवा कर स्कुल छुडवा देते व घर का काम करने के लिए दबाव डालते है जबकि हमारी माने तो लडकियो को उनकी लगन व मेहनत के अनुसार शिक्षा के क्षेत्र मे आगे बढना चाहिए व इससे वो आपके व खुद के भविष्य को उज्ज्वल कर सकती है व काफू तरक्की भी प्राप्त कर सकती है

7. नौकरी

भारत मे‌ ये बहुत बडी समस्या होती है की लडकियो को नौकरी नही करने दी जाती फिलहाल काफी लोगो की सोच बदल चुकी है व वे नारियों को नौकरी करने के लिए प्रेरित करते है पर अधिक लोग इसके खिलाफ होते हैं जो की भविष्य मे उनके दुख का कारण बन‌ सकता है शादी के बाद अगर लडकी के पति को नौकरी ना मिले या नौकरी ना करे तो लडकियो को भुख भी सहनी पडती है जबकि अगर लडकियो को नौकरी करने दी जाये तो वो अपने परिवार का गुजारा आराम से कर सकती हैं व बडी post पर नौकरी प्राप्त् कर के वो अपने परिवार व समाज का नाम रोशन भी कर सकती है ऐसे मे अगर कोई लडकी नौकरी करना चाहे तो सबको उसका साथ देना चाहिए ना की उसे नौकरी करने से रोकना चाहिए

8. आजादी

आज के समय मे भी भारत मे लडकियो को इतनी आजादी नही है जितनी की इस समय मे सब को होनी चाहिए आज सरकार कई कडे कदम उठा रही है ताकि लडकियो को लडको की तरह आजादी दिलवाई जा सके पर काफी लोगो पर इसका कोई असर नही है लडकियो को कई लोग मात्र गुलाम मानते हैं व घर की चार दिवारी मे कैद करके रखते है व  कुछ औरतो की स्थिति तो ऐसी है की कई दिनो तक वो अपने घर से बहार तक नही निकलने दिया जाता ये बहुत घटिया सोच होती है हमेशा लडकियो को जितनी हो सके उतनी आजादी देने का प्रयत्न करे इससे लडकियो को हिम्मत व जिन्दगी का असली अर्थ मालुम हो सके

9. सुरक्षा

आज के समय मे नारी समाज की सबसे बडी जो समस्या है वो सुरक्षा को लेकर ही है कुछ घटिया मानसिकता वाले लोग नारी को मात्र अपने स्वार्थ के लिए इस्तेमाल करते है आज के समय मे गाव शहर गलियों गलियारो आदि मे कोई ऐसी जगह नही बची जहा नारी अपने आपको पूर्ण रुप से सुरक्षित महसूस कर सके इसके लिए सरकार ने कई कडे कदम उठाये हैं पर सभी युवाओ को मेरी राय यही है की नारी को बहन या माता मान कर उनकी रक्षा करे ताकि भारत की महिलाएं सुरक्षित रह पाये

10. व्यवहार

भारत मे नारियों के साथ कैसा व्यवहार होता है इसके बारे मे आप जानते ही है व पहले नारियों के साथ बहुत खराब व्यवहार किया जाता था पर अभी शिक्षा के व जाग्रती के कारण महिलाओं के व्यवहार मे काफी सुधार हुआ है पर कई जगह अभी भी नारियों की स्थिति पहले जैसी है व बहुत दुख व यातनाएँ सह कर जी रही है हमे ऐसे लोगो को जाग्रत करना जरुरी है जो व्यक्ति नारी जाती के साथ इंसान जैसा व्यवहार नही करते उनको समझा कर उनके मन मे नारियों के प्रति इज्जत बढाने का कार्य करना चाहिए

मुजे उम्मीद है की आपको ये आर्टिकल जरुर पसंद आया होगा  व आप अपनी कोई राय या सुजाव देना चाहते है तो comments के माध्यम से दे सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here