बैंक से ऋण कैसे प्राप्त करे।। Bank Loan Kaise Le Puri Jankari

bank loan, bank se loan kaise le में आपका स्वागत है आज में आपको लोन के बारे में पूरी जानकारी बताने वाला हु दोस्तों लोन के बारे में तो आप  जानते ही होंगे लोन का मतलब है उधार लेना, चाहे वो आप बैंक से ले या किसी व्यक्ति से आप के ऊपर अगर कर्ज है तो वो आपका लोन ही है

bank loan

जानकारी के आभाव में हम ज्यादातर किसी व्यक्ति से लोन ले लेते है और शायद 2  प्रतिशत के हिसाब से हम उसे ब्याज चुकाते है पर वो ही लोन बैंक 7 से 14 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर के हिसाब से लोन देती है जो की किसी व्यक्ति से लिए गए लोन से काफी कम ब्याजदर पर मिलता है अगर आपको बैंक से लोन लेना है तो आज हम इसके बारे में पूरी जानकारी आपको बताने वाले है

BANK LOAN चुकाने की अवधि

दोस्तो बैंक से लोन लेने पर उसे चुकाने की अवधि ३ प्रकार की होती हैं। जिसके बारे मे मैं आपको बताने वाला हु।

  1. अल्पकालिक लोन ( Short Terms Loan )
  2. मध्यकालीन लोन ( Medium Terms Loan )
  3. दीर्घकालिक लोन ( Long Terms Loan )


1. अल्पकालिक लोन – इस लोन की अवधि सबसे कम होती है। अल्पकालिक लोन को चुकाने की अवधि 1 वर्ष से भी कम होती है।


2. मध्यकालीन लोन – इस लोन को‌ चुकाने की अवधि अल्पकालिक लोन से थोड़ी अधिक होती है। इस लोन को आपको 1 वर्ष से 3 वर्ष तक चुकाना अनिवार्य हैं।


3. दीर्घकालिक लोन – ये लोन सबसे बेह्तर माना जाता है। क्युँकि इस लोन को चुकाने की अवधि काफी अधिक होती है इसे चुकाने कि अवधि 3 वर्ष से भी अधिक होती है।

BANK LOAN कितने प्रकार के होते हैं।

दोस्तो bank हमें जरुरत के अनुसार अलग अलग प्रकार के लोन देता है जिसमें ब्याज दरें  और लोन चुकाने कि अवधि भी अलग अलग रखी गयी हैं।

1. व्यक्तिगत ऋण ( Personal Loan ) – किसी व्यक्ति द्वारा खुद की किसी निजी कार्य को पुरा करने के लिये लिया गया लोन व्यक्तिगत ऋण होता है। जैसे – बच्चों की विधालय की फीस भरने, चिकित्सा के लिए, किसी को कर्ज चुकाने के लिए, घर का सामान खरीदने आदि के लिये लिया जाता है । अन्य लोन की तुलना में व्यक्तिगत ऋण की ब्याज दर काफी अधिक होती है। इस लोन मे सभी Bank’s की ब्याज दरें अलग अलग होती है। व्यक्तिगत ऋण चुकाने की अवधि 4 वर्ष तक होती है।


व्यक्तिगत ऋण मात्र व्यक्ति की Selery देख के उसके आधार पर दिया जाता है। इस लोन को लेते वक्त अधिक Document नही मांगे जाते बस आपके  Selery Sleep  Bank को दिखाना अनिवार्य है।


2. गोल्ड लोन ( Gold Loan ) – ये लोन गोल्ड ( स्वर्ण ) के उपर‌ दिया जाता है। इस लोन को लेने के लिये आपको उस Bank के Locker मे अपना सोना जमा करवाना पड़ता है जिस Bank से आप लोन लेना चाहते हैं। इसमे व्यक्तिगत ऋण ( Personal Loan ) की तुलना मे ब्याज दर काफी कम होता हैं।


Bank ये लोन आपके गोल्ड ( स्वर्ण ) के कीमत मे से 80%  तक का लोन देती है। जिसमे आपके गोल्ड कि Quality और  Price के आधार पर लोन की रकम तय की जाती हैं।


3. प्रोपर्टी लोन ( Property Loan )  – ये लोन सबसे बेहतर माना जाता है। ओर अधिकांश लोग ये लोन लेना ही पसन्द करते हैं। इसमे लोन को लेने के लिये आपको आपकी प्रोपर्टी Bank मे गिरवी रखनी पड़ती है जैसे – घर, दुकान, या अन्य सम्पत्ति

इस लोन को‌ चुकाने कि अवधि अधिकतम 15 वर्ष तक होती है। और इसमे ब्याज दर भी बहुत कम होती है।

इस लोन को लेने के लिये आपके पास आपके प्रोपर्टी के कागजात होने अनिवार्य है एवं आपके पास 3 वर्ष की INCOME TAX FILE होनी अनिवार्य है।


4. ग्रह ऋण ( HOME LOAN) – ये लोन घर बनाने या घर खरीदने के  लिये Bank द्वारा दिया जाता है। इसकी ब्याज दरें काफी कम होती है। और इस लोन को लेना काफी आसान है आप किसी भी bank से Home Loan के लिए Apply कर सकते हैं।

Home loan लेने पर Bank आपके घर की कीमत का 80% तक लोन दे सकती है  शेष रकम आपको खुद इकट्ठी करनी होती है। जैसे की आप कोई प्लोट खरीदते है जिसकी कीमत 1 लाख रुपये है। तो आप उसके लिये Bank से लोन ले सकते हैं आपको इसके लिये 30% राशि यानी 30,000 रुपये पह्ले जमा करवाने होगे बाकी के पैसे आप धीरे धीरे जमा करवा सकते है  इसमे ऋण चुकाने की अवधि 5 वर्ष से लेकर 20 वर्ष तक हो सकती है।

5. एजुकेशन ऋण ( Education Loan ) – कुछ विधार्थी काफी मेहनत से पढाई करते है और 10th या 12th के बाद अपनी पसन्द का कोर्स लेना चाहते है पर ग़रीबी के कारण वो अपना अध्ययन पुरा नही कर पाते उनके लिये सरकार ने एजुकेशन लोन की बहुत अच्छी स्कीम निकाली है इसमे कोई भी छात्र लोन प्राप्त कर सकता है पर इस लोन को लेने के लिये काफी मेहनत करनी पडती है 


Bank द्वारा Education loan देने से पहले  bank उस Student  के Marks, Family Income, Family Background एवं छात्र लोन ले के जो कोर्स करना चाहता है वो कोर्स होने के बाद Student  को कितना रोजगार मिलेगा व वो Bank का लोन चुका पायेगा या नही आदि जानकारी लेने के बाद ही Bank द्वारा एजुकेशन लोन Approve किया जाता है।

इस लोन को लेने के‌ लिये एक गारन्टर की आवश्यकता होती है जो कोई भी परिवार का सदस्य बन‌ सकता है। 


6.  वा‌हन ऋण ( Vehicle Loan ) – दोस्तो अगर आप कोई वाहन खरीदना चाहते है तो आप बहुत आसानी से इसके लिये लोन प्राप्त कर सकते हैं इसमे आप जैसा वाहन खरीदते हो वैसा आपको लोन दिया जाता है।


इसलिये वाहन लोन लेते वक्त bank के कर्मचारी हमे पूछते है की आप कौनसा लोन लेना चाहते हो Fixed या Floating तो आपको अपनी इच्छानुसार दोनो में से किसी एक को चुनना होगा । और जब तक आप bank का पुरा लोन नही चुकाते तब तक आपके वाहन पर Bank का स्वामित्व रहता हैं।

वाहन लोन 2 प्रकार का होता है।

1. FIXED RATE 
2. FLOATING RATE

1 FIXED – इसमे जब आप लोन लेते है तब जो ब्याज लागु होती है ओर आपका पुरा लोन चुकाने तक वो ही ब्याज दरे रहती है  उसे fixed rate कहते हैं।

2 FLOATING RATE – इसमे आप लोन लेते है तब जो ब्याज दर होती है वो समय के साथ ज्यादा या कम भी हो सकती है।  और उसी के according आपके लोन का भी इंटरेस्ट रेट कम या ज्यादा होता रहेगा. 

वाहन लोन लेने के लिये आपको 3 महिने की Selery Sleep, 3 साल पुरानी Income Tax File, 1 कोई भी पहचान पत्र, 1 आपके पते का कोई भी Document  Bank मे जमा कराने होगे


दोस्तो मे उम्मीद करता हु की आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी अधिक जानकारी के लिये आप हमे Comments कर सकते है
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here