CID व CBI क्या होता हैं व दोनों में क्या अंतर है।

नमस्कार मित्रों आपका Help Guru Group में स्वागत है आज हम आपको CID व CBI में क्या अंतर होता हैं इसके बारे में पूरी बताने वाले है कई लोगो को इसके बारे मे जानकारी नहीं होती की ये क्या है तो आज इसी से सम्बंधित हम आपको बताने वाले है इसमे नौकरी कैसे प्राप्त करते हैं व इन दोनो के कार्य क्या क्या होते है आदि के बारे मे हम आपको बताने वाले है।cid vs cbi

CBI व CID दोनो ही बहुत बडी संस्था है व इन दोनो के कार्य भी अलग अलग है कई लोग इनके नाम सुन कर confused हो जाते हैं की CBI क्या है व CID क्या है तो आज हम आपको इसके बारे मे पूरी जानकारी बतायेगे जिससे आपको इन दोनो में क्या अंतर है इसके बारे मे पता चल सके व अगर आप इसमे नौकरी पाना चाहते हैं तो हम इसने नौकरी प्राप्त करने के बारे मे भी बतायेगे

CID क्या होता है।

CID Full Form – Crime investigation Department होता हैं व केवल राज्य स्तर पर आपराधिक मामलो की जांच करती है इसकी स्थापना 1902 में अंग्रेजों के समय में की गयी थी सभी राज्य मे अलग अलग CID Department होते है व ये राज्य मे होने वाले दंगों, हत्या, अपहरण, चोरी जैसे संगीन मामलो की जांच करती है।

CID के संचालन का अधिकार राज्य सरकार अथवा उस राज्य के high Court के पास होता है इसका अर्थ होता है की कोई घटना होने पर राज्य सरकार या हाई कोर्ट उसकी जांच का कार्य CID को सौपते है व उसी के आधार पर ये उस मामले की जांच करते हैं

CID बनने के लिए योग्यता

अगर आप CID Join करना चाहते है तो इसके लिए आवेदन करने के लिए आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन अथवा पोस्ट ग्रेजुएशन उतीर्ण होना अनिवार्य है।

CID बनने के लिए आवश्यक योग्यता

  • उम्मीदवार का भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है।
  • LDC या अन्य कर्मचारी बनने के लिए 12th उतीर्ण होना अनिवार्य है।
  • अधिकारी लेवल की post के लिए graduate होना अनिवार्य है।
  • इसके लिए महिला व पुरुष दोनों आवेदन कर सकते हैं।

CID बनने की उम्र सीमा

  • General category के उम्मीदवार की उम्र सीमा 20 वर्ष से 27 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।
  • OBC category के उम्मीदवार की उम्र सीमा 20 वर्ष से 30 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।
  • ST/SC categorized के उम्मीदवार की उम्र सीमा 20 वर्ष से 32 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।

CID बनने के लिए Attempt

Attempt का अर्थ होता हैं की एक उम्मीदवार कितनी बार इसकी परीक्षा दे सकता है अगर कोई उम्मीदवार इसमे आवेदन करता है व किसी कारणवश वो परीक्षा नही दे पाता तो वो attempt नही गिना जायेगा

  • General वर्ग के लोग 4 बार इसकी परीक्षा दे सकते हैं।
  • OBC वर्ग के लोग 7 बार इसकी परीक्षा दे सकते है
  • ST/SC  के लोग असीमित बार इसकी परीक्षा दे सकते हैं।

CID की चयन प्रक्रिया 

CID Offier की चयन प्रकिया 3 अलग अलग चरणो मे रखी गयी हैं।

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार

इसी के आधार पर एक cid officer का चयन किया जाता है

1. प्रारम्भिक परीक्षा ( PRELIMINARY EXAM )

आवेदन करने के बाद उम्मीदवार को सर्वप्रथम यही परीक्षा देनी  होती है जिसमें वो  सभी उम्मीदवार भाग ले सकते है जिन्होंने इसके लिए आवेदन किया हो ये परीक्षा 200 अंको की होती है और इसमे 2 घंटो  समय होता हैं इस परीक्षा मे सफल हुए उम्मीदवारों को ही अगले चरण ( मुख्य परीक्षा ) में भेजा जाता हैं।

2. मुख्य परीक्षा ( MAIN EXAM )

इस परीक्षा मे वो ही उम्मीदवार भाग ले सकते है जिन्होंने प्रारम्भिक परीक्षा उत्तीर्ण कर ली हो उनके लिए मुख्य परीक्षा आयोजित करायी जाती है ये परीक्षा 400 अंको की होती हैं।  इस परीक्षा के लिए उम्मीदवार   को 4 घंटो का समय दिया जाता हैं।

3. साक्षात्कार ( INTERVIEW )

जो उम्मीदवार प्रारंभिक व मुख्य परीक्षा मे सफल घोषित होते है व साक्षात्कार में भाग ले सकते है ये CID बनने का आखिरी चरण होता है व ये 100 अंको का होता है 

इन सब के बाद एक मेरिट जारी की जाती है उसमें निर्धारित किया जाता है की किस किस का इसमे चयन होता है व कौन कौन CID Officer बन सकता है।

CBI क्या है।

CBI Full Form – Central Bureau of Investigation होता है दूसरे विश्व युद्ध के बाद भ्रष्टाचार  की जांच के लिए ब्रिटिश सरकार ने 1941 में स्पेशल पुलिस एस्टैब्लिशमेंट की स्थापना की थी जिसे CBI कहा जाता है युद्ध के बाद दिल्ली स्पेशल पुलिस एस्टैब्लिशमेंट ऐक्ट, 1946 के प्रावधानों के तहत इस एजेंसी ( CBI ) का संचालन होता रहा अभी भी CBI का संचालन इसी कानून के में होता है  शुरुआत मे इसका कार्य भ्रष्टाचार की जाच करना था पर बादमे इसके कार्य कई हद तक बढा दिये गये

सन्‌ 1963 में गृह मंत्रालय ने एक प्रस्ताव के माध्यम से स्पेशल पुलिस एस्टैब्लिशमेंट का नाम बदलकर सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन  कर दिया व तब से इसे CBI कहा जाने लगा CBI के पहले संस्थापक निदेशक डी.पी.कोहली थे जिन्होंने 1963 से 1968 तक इस क्षेत्र मे अपनी सेवा प्रदान की थी

CBI बनने के लिए योग्यता

अगर आप CBI Join करना चाहते है तो इसके लिए आवेदन करने के लिए आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 55% अंको के साथ ग्रेजुएशन अथवा पोस्ट ग्रेजुएशन उतीर्ण होना अनिवार्य है साथ ही उम्मीदवार का SSC CGL परीक्षा उतीर्ण करना आवश्यक है तभी वो CBI के लिए आवेदन कर सकता है।

CBI बनने के लिए आवश्यक योग्यता

  • उम्मीदवार का भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है।
  • अधिकारी लेवल की post के लिए graduate होना अनिवार्य है।
  • इसके लिए महिला व पुरुष दोनों आवेदन कर सकते हैं।

CBI बनने की उम्र सीमा

  • General category के उम्मीदवार की उम्र सीमा 20 वर्ष से 27 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।
  • OBC category के उम्मीदवार की उम्र सीमा 20 वर्ष से 30 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।
  • ST/SC categorized के उम्मीदवार की उम्र सीमा 20 वर्ष से 32 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।

CBI की चयन प्रक्रिया 

CBI Offier की चयन प्रकिया 3 अलग अलग चरणो मे रखी गयी हैं।

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार

इसी के आधार पर एक CBI officer का चयन किया जाता है CBI की लिखित परीक्षा 400 अंको की होती है व इसमे आपको objective type के सवाल पूछे जाते है व उसमे जो उम्मीदवार सफल घोषित होते है उनको अगले चरण साक्षात्कार के लिए चुना जाता है ये 100 अंको का होता है उसमे सफलता प्राप्त करने के बाद ही आप CBI Officer बन सकते हैं।

इन सब के बाद एक मेरिट जारी की जाती है उसमें निर्धारित किया जाता है की किस किस का इसमे चयन होता है व कौन कौन CBI Officer बन सकता है।
Calculation – मित्रों हमे उम्मीद है की आपको CBI Officer व CID Officer क्या है इसके बारे मे बतायी गयी जानकारी पसंद आयी होगी व अगर आप‌ उससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे comment कर के पूछ सकते हैं।

Leave a comment