RTO OFFICER KAISE BANE – How To Become RTO Officer

नमस्कार मित्रो आज हम आपको RTO Officer kaise bane इसके बारे में बताने वाले है कई लोगो की रुचि होती है की वो RTO Officer बन कर अपना भविष्य बनाये पर कई लोगो को इसकी जानकारी नही होती जिसके कारण वो RTO नही बन पाते पर आज के article में हम आपको RTO Officer बनने की पूरी जानकारी बताने वाले है आज के  आर्टिकल में हम आपको RTO Officer   बनने के लिए शैक्षिक योग्यता, उम्र सीमा, चयन प्रक्रिया, मासिक वेतमान आदि के बारे में पूरी जानकारी देंगे जिससे की आपको RTO Officer  बनने में मदद मिल सके rto officer

जैसे की आप जानते ही RTO Officer  का पद बहुत जिम्मेदारी वाला होता है व ये बहुत बड़ी post होती है जिसके कारण कई मेरिट किये हुए लोग भी इसके लिए आवेदन करते है पर सभी को इसमें सफलता नही मिल पातीं अगर आपको RTO Officer बनना है तो आपको उसके अनुसार काफी मेहनत करनी होगी जिससे आप मेरिट किये हुए लोगो से अधिक अंक प्राप्त कर पाए व इस बात का ध्यान रखे की आप अधिक अंक लाने पर मेरीट के हिसाब से ही इस पद पर नौकरी प्राप्त कर सकते है 

RTO Officer क्या होता है 

RTO Officer बनाने से पहले आपको ये जानना जरुरी है की RTO क्या होता है RTO की full form क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (REGIONAL TRANSPORT OFFICER) होती है व RTO का कार्य वाहनों का पजीयन करना,वाहनों व ड्राइवरों का डाटाबेस बनाये रखना आदि कार्य होते है 

 

RTO Officer बनने के लिए शैक्षिक योग्यता 

RTO Officer बनाने के लिए उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है व अन्य post के लिए अलग अलग शैक्षिक योग्यता रखी गयी है 

RTO Officer के लिए उम्र सीमा 

RTO Officer बनाने के लिए उम्मीदवार की उम्र न्यूनतम 21 वर्ष व अधिकतम 30 वर्ष तक आयु होनी आवश्यक है व OBC वर्ग के लोगो को 3 वर्ष व ST /SC वर्ग के लोगो को 5 वर्ष की छूट का प्रावधान है 

RTO Officer की चयन प्रक्रिया 

RTO Officer बनने की चयन प्रक्रिया 3 अलग अलग चरणों में रखी गयी है जिसमे सफलता प्राप्त कारने ने बाद आप इस पर पर नौकरी प्राप्त कर सकते है 

  1. लिखित परीक्षा  
  2. फिजिकल टेस्ट
  3. साक्षात्कार 

1. लिखित परीक्षा  

आवेदन करने के बाद उम्मीदवारों की सबसे पहले लिखित परीक्षा ली जाती है उसमे सभी आवेदन करने वाले युवा भाग ले सकते है ये परीक्षा 2 घंटे की होती है व ये 200 अंको की परीक्षा होती है इसमें आपसे  राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम, भारत का इतिहास, भूगोल, हिंदी व्याकरण, आर्थिक और सामाजिक विकास, पर्यावरण और पारिस्थितिकी, सामान्य विज्ञान, अंग्रेजी भाषा आदि से सम्बंधित सवाल पूछे जाते है 

2. फिजिकल टेस्ट

लिखित परीक्षा में सफल घोषित होने के बाद उम्मीदवारों को फिजिकल टेस्ट के लिए बुलाया जाता है व इसमें सफल होने के लिए आपको शारीरिक रूप से स्वास्थ्य व fit  होना आवश्यक है इसमें आपके अलग अलग तरह से test लिए जाते है व इसमें आपके प्रदर्शन के आधार पर आपको अंक प्रदान किरये जाते है 

3. साक्षात्कार 

लिखित परीक्षा व फिजिकल टेस्ट दोनों में सफलता प्राप्त करने के बाद आपको साक्षात्कार Interview के लिए बुलाया होता है व इसमें आपकी बुद्धि, क्षमता, मूल्यों और गुणों के आधार पर आपको जांचा जाता है। और आपसे कुछ सवाल किये जाते है जिसमे आप किस  तरह से उनके सवालों के जवाब देते है उस आधार पर आपको इसमें अंक दिए जाते है 

RTO Officer का मासिक वेतमान 

RTO का मासिक वेतन 20,000  रुपये से लेकर 40,000 रूपए तक  हो सकता है व इसमें साथ RTO अधिकारी को अन्य कई तरह के भत्ते व सुविधाए भी दी जाती है 

RTO Officer  के कार्य 

आगे आपको हम RTO के कार्य बताने वाले है। अगर कोई व्यक्ति नया वाहन खरीदता है तो उसे गाड़ी के कुछ ज़रुरी क़ागज़ात बनवाने होते है। तो जानते है RTO के कार्य क्या होते है:

1 . Driving  Licence

किसी भी वाहन को चलाने के लिए आपके पास Driving licence होना आवश्यक है अगर आप बिना licence के वाहन चलाते है तो आपसे जुर्माना भी वसूला जा सकता है व licence बनाने के लिए आपको RTO office जाना होता है व आपका licence rto के द्वारा ही बनाया जाता है आप ये भी कह सकते है की licence बनाना RTO का महत्वपूर्ण कार्य होता है 

2 . Vehicle Ragistration 

आपने देखा होगा की कोई भी छोटा बड़ा वाहन खरीदने पर उसका ragistration करना अनिवार्य होता है व जब आप किसी वाहन का ragistration करते है तो आपको उस वाहन की एक number plat दी जाती है ये सब ragistration के बाद होता है व आप बिना ragistration के वाहन उपयोग करते है तो वो गैर कानूनी होता है 

3. Polution Test 

कई बार आपने देखा होगा की छोटे बड़े वाहनों को रोक कर उनका polition test लिया जाता है व अगर कोई वाहन अधिक polution फैला रहा हो तो उस वाहन के मालिका या ड्राइवर से fine लिया जाता है ये कार्य भी RTO के द्वारा होता है 

4. Insurance 

किसी वाहन आदि का इंश्योरेंस का काम भी RTO के द्वारा किया जाता है। किसी को भी अपने वाहन का बीमा करवाना हो या इससे जुड़ा कोई कार्य हो तो उस व्यक्ति को RTO Office जाना होता है 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here